Wednesday, February 21Ujala LIve News
Shadow

विधायक मोना मिश्रा के सवाल पर मंत्री नन्दी ने सदन में रखा यूपीजीआईएस व जीबीसी का आंकड़ा

Ujala Live

विधायक मोना मिश्रा के सवाल पर मंत्री नन्दी ने सदन में रखा यूपीजीआईएस व जीबीसी का आंकड़ा

मंत्री नन्दी ने तारांकित प्रश्न का सदन में दिया जवाब,तीन ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी का हुआ आयोजन, 859 औद्योगिक इकाईयों का प्रारम्भ हुआ संचालनः नन्दी,3 लाख 31 हजार 767 रोजगार का हुआ सृजन,हमारी सरकार ने फिजूलखर्ची पर पूर्णतः रोक लगाई है: नन्दी,विधानमण्डल के शीतकालीन सत्र के तीसरे दिन उत्तर प्रदेश सरकार के औद्योगिक विकास मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी ने सत्र की कार्रवाई में सम्मिलित होते हुुए विधानसभा में सदस्य विधानसभा श्रीमती आराधना मिश्रा मोना द्वारा पूछे गए तारांकित प्रश्न का जवाब दिया। मोना मिश्रा ने सदन के माध्यम से पूछा था कि प्रदेश में ग्लोबल इन्वेस्टर समिट के ग्राउण्ड ब्र्रेकिंग सेरेमनी आयोजित करने में कुल कितना व्यय हुआ है। व्यय के सापेक्ष कितना इन्वेस्टमेंट तथा वर्तमान तक कितना रोजगार धरातल पर पूर्ण किया गया है। साथ ही यह भी पूछा था कि क्या सरकार इन्वेस्टर समिट में जनपदवार पूर्ण संख्या में प्राप्त इन्वेस्टमेंट, प्राप्त धनराशि तथा जनपदवार स्थापित फैक्ट्री का विवरण सदन के पटल पर रखेगी।
मोना मिश्रा के तीनों सवालों का मंत्री नन्दी ने सदन के माध्यम से जवाब दिया। मंत्री नन्दी ने कहा कि विधानसभा सदस्य का प्रश्न ग्लोबल इन्वेस्टर समिट 2023 के उपरान्त जीबीसी आयोजित किए जाने से सम्बंधित है, जो कि अभी नहीं हुई है। मंत्री नन्दी ने कहा कि हमारी सरकार ने फिजूलखर्ची पर पूर्णतः रोक लगाई है। विभिन्न आयोजनों को मितव्ययिता के साथ सम्पादित किया जा रहा है। आयोजन में कम्पीटेटिव बिड प्रक्रिया अपनाते हुए विकासकर्ताओं का चयन किया गया था। उसमें जिस प्रक्रिया का पालन किया गया था, उससे इन्वेस्ट यूपी को आमदनी हुई।
मंत्री नन्दी ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा वर्ष 2018 में आयोजित इन्वेस्टर समिट के दौरान राज्य में उद्योग स्थापित करने के इच्छुक निवेशकों के साथ 4.28 लाख करोड़ के समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए गए। मंत्री नन्दी ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा तीन ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी का आयोजन हो चुका है। जिसमें कुल 1777 इकाईयां सम्मिलित हुईं। 859 औद्योगिक इकाईयों का वाणिज्यिक संचालन प्रारम्भ हो चुका है। अन्य औद्योगिक इकाईयों का निर्माण गतिमान है। इन इकाईयों के प्रारम्भ हो जाने से तीन लाख 31 हजार 767 रोजगार का सृजन हुआ है। भारत सरकार के पोर्टल से प्राप्त विवरण के अनुसार जिन एमएसएमई इकाईयों का रजिस्ट्रेशन इस पोर्टल पर हुआ है, उसके अनुसार 38 लाख 90 हजार रोजगार का सृजन हुआ है।

प्रमोद तिवारी जी सदन में बोलते थे तो पूरा सदन उनकी बातों को गम्भीरता से सुनता था
मंत्री नन्दी ने कहा कि मोना मिश्रा जी के पिता प्रमोद तिवारी जी सदन में बोलते थे तो पूरा सदन उनकी बातों को गम्भीरता से सुनता था और बहुत अच्छा लगता था, क्योंकि वे सवाल ही ठीक से करते थे और उनको पता होता था कि उनको पूछना क्या है। यहां पर विधानसभा सदस्य ने प्रश्न के जरिये ये पूछा है कि ग्लोबल इन्वेस्टर समिट के बाद ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी आयोजित करने में कितना खर्च हुआ। जबकि ग्लोबल इन्वेस्टर समिट के बाद अभी तक ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी का आयोजन हुआ ही नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

× हमारे साथ Whatsapp पर जुड़ें